Tuesday , 13 November 2018
पाठक संख्याhit counter
    BREAKING NEWS
    गणतंत्र दिवस: पहली बार ASEAN देशों के 10 प्रमुख बने मेहमान, राजपथ पर पैदल चले मोदी

    गणतंत्र दिवस: पहली बार ASEAN देशों के 10 प्रमुख बने मेहमान, राजपथ पर पैदल चले मोदी

    गणतंत्र दिवस परेड: 7 प्वाइंट्स

    1. अमर जवान ज्योति पर श्रद्धांजलि

    – मोदी ने सबसे पहले इंडिया गेट पर अमर जवान ज्योति जाकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। उनके साथ रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत, एयरचीफ मार्शल बीएस धनोवा और नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लान्बा भी मौजूद थे।

    2. आसियान देशों के प्रमुख बने चीफ गेस्ट, चुनरी भी डाली

    – इस बार की गणतंत्र दिवस परेड के चीफ गेस्ट 10 आसियान देशों के प्रमुख शामिल हुए।

    – इनमें वियतनाम के प्रधानमंत्री नगुएन शुआन फुक, म्यांमार की स्टेट काउंसलर आंग सांग सू की, ब्रुनेई के सुल्तान हाजी हसनल बोल्किया, इंडोनेशिया के प्रेसिडेंट जोको विडोडो, फिलीपींस के प्रेसिडेंट रोड्रिगो दुतेर्ते, कंबोडिया के पीएम हुन सेन, मलेशिया के प्रधानमंत्री नजीब रजाक, थाईलैंड के पीएम प्रयुत चान-ओ-चा, लाओस के पीएम थोनग्लोन सिसोलिथ और सिंगापुर के पीएम ली सीएन लूंग मौजूद रहे।

    – जहां मोदी ने राजस्थानी पगड़ी पहनी, वहीं 10 आसियान देशों के प्रमुखों ने गले में राजस्थानी चुनरी डाली।

    – आसियान देशों को गणतंत्र दिवस परेड में बुलाने का मकसद एशिया में चीन के बढ़ते प्रभाव को रोकना है।

    3. अशोक चक्र देते वक्त भावुक हुए राष्ट्रपति

    – परेड शुरू होने से पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कश्मीर में शहीद हुए कॉर्पोरल ज्योति कुमार निराला को अशोक चक्र दिया। निराला की पत्नी-मां को ये सम्मान दिया गया।

    – अशोक चक्र देते वक्त कोविंद भावुक हो गए।

    4. महिला जवानों ने लीड किए दस्ते

    – गणतंत्र दिवस परेड में 6 दस्तों की कमान महिला जवानों के हाथ रही।

    – इसमें राजपथ पर आकाश हथियार प्रणाली से लैस 27 एयर डिफेंस मिसाइल रेजीमेंट का दस्ता सबसे पहले नजर आया। इसकी अगुआई कैप्टन शिखा यादव ने की।
    – नेवी की 144 यंगस्टर्स की टुकड़ी का नेतृत्व करने वालों में सब लेफ्टिनेंट रूपा शामिल थीं। एयरफोर्स की टुकड़ी की अगुआई फ्लाइट लेफ्टिनेंट चंदा, अदिति बाली और अमरदीप कौर ने किया। भारतीय तटरक्षक के दस्ते का नेतृत्व करने वालों में डिप्टी कमाडेंट श्वेता रैना शामिल थीं।
    – एनसीसी सीनियर डिविजिन की गर्ल्स कैडेट्स के दस्ते की अगुआई मुस्कान अग्रवाल और पूजा निकम ने की।

    – BSF की 113 महिला जवानों ने बाइक्स पर 16 तरह के हैरतअंगेज स्टंट दिखाए। इसे स्टैंजिन नरयांग ने लीड किया। इस टुकड़ी को सीमा भवानी नाम दिया गया है।

    5. वुमन बाइकर्स ने दिखाए स्टंट

    – गणतंत्र दिवस परेड में पहली बार वुमन बाइकर्स ने राजपथ पर करतब दिखाए।

    – बीएसएफ की 113 महिलाओं ने बाइक्स पर 16 तरह के हैरतअंगेज स्टंट दिखाए। इस महिला टुकड़ी को सीमा भवानी नाम दिया गया है।
    – परेड के दौरान राजपथ पर BSF समेत कुल 6 मार्चिंग दस्तों में वुमन पावर नजर आई।
    – बीएसएफ ने अक्टूबर 2016 में ऑल वुमन बाइकर्स कंटिंजेंट बनाया था। इसने गणतंत्र दिवस परेड में पहली बार हिस्सा लिया। इन बाइकर्स की उम्र 25 से 30 के बीच है। इनकी ट्रेनिंग टेकनपुर में हुई। (पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें)

    6. फाइटर प्लेन्स ने आसमान में दिखाई कलाबाजी

    परेड के अंत में फाइटर प्लेन्स सुखोई-तेजस, हेलिकॉप्टर्स और ग्लोबमास्टर ने फ्लाईपास्ट किया।

    – फाइटर प्लेन्स ने ध्रुव, रुद्र, विक, रुद्र, नेत्र, ग्लोब, तेजस और एयरो हेड फॉर्मेशन बनाए।

    7. राजपथ पर पैदल चले मोदी

    – परेड के बाद मोदी राजपथ पर पैदल चले। इस दौरान उन्होंने लोगों को अभिवादन किया।

    – बता दें कि 15 अगस्त, 2017 को भी मोदी प्रोटोकॉल तोड़कर बच्चों से मिले थे।

    About jap24news