Thursday , 20 September 2018
पाठक संख्याhit counter
    BREAKING NEWS
    छत्तीसगढ़ : एक रुपये किलो चावल कहीं नहीं, दुनिया छत्तीसगढ़ में देखने आती है – राजनाथ सिंह

    छत्तीसगढ़ : एक रुपये किलो चावल कहीं नहीं, दुनिया छत्तीसगढ़ में देखने आती है – राजनाथ सिंह

    रायपुर।गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि विरोधी दल का कोई सीएम 1 रुपए में चावल उपलबध कराता है। ऐसे सीएम का स्वागत करना चाहिए तो विपक्षी दल विरोध कर रहे हैं। बड़ी से बड़ी ताक छग की जनता को गुमराह नहीं कर सकती है। जहां जहां भी हमारी सरकारें हैं। सभी ने ये काम किया है। यहां की सार्वजनिक वितरण प्रणाली है जिसके तहत 1 रुपए किलो की दर से चावल मिल रहा है और उसमें कोई धांधली नहीं है ये देखने के लिए दुनिया के लोग छग में आते हैं।

    – हमारे पीएम मोदी ने जो काम ककिया है वो क्या कभी कांग्रेस ने किया है। जो खुले आसमान के नीचे रहने वाले का खाता भी इस आजाद भारत में खुलना चाहिए। 1 रुपए महीना देकर आपका इंश्योरेंस हो सकता है। इतने काम होने के बावजूद कांग्रेस के लोग अंगुली उठा रहे हैं।

    – उन्हें अपने गिरेबान में झांकरकर देखना चाहिए। केवल मैं आपको गुमराह करने के लिए नहीं बलकि दिल की गहराई से बोल रहा हैं। यहां की सरकार ने करिश्माई काम किया है। कुछ ऐसी ताकते नहीं चाहती हैं। माओवादी ताकते, गरीबों को गुमराह करने की कोशिश करती है।

    – आदिवासी को आभार देना चाहता हूं कि उन्होंने तय किया है कि वे अब किसी इस तरह की धारा से नहीं जुड़ना चाहते हैं। सारे नक्सल वादी और माअोवादी गुमराह करने की कोशिश करते हैं। हमारे पिछड़े क्षेत्र में सड़क बनाएंगे, मोबइल टावर लगाएंगे।

    – बुजुर्गों के बारे में सोचा, शौचालय को लेकर भी सरकार चिंता कर रही है। बुजुर्गों और महिलाओं को किसी तरह की परेशानी नहीं होनी चाहिए। बहुत सारी परियोजनाओं का लोकार्पण हुआ है। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी ने उनको बताया कि दंतेवाड़ा बाईपास 18 करोड़ की लागत का, कटेकल्याण रोड 16 करोड़ , झाीरम गौरव पथ, किरंदुल, गैरव पथ सहित अन्य योजनाएं मिली हैं।

    – करीब 26 हजार लोगों को पानी की सुविधा प्राप्त होगी। 1 हजार पीएम अावास 13 करोड़ के बनेंगे। कोई भी व्यक्ति ऐसा न हो कि उसके पास सिर ढकने के लिए छत न हो। हमारा संकल्प है कि 7 लाख लोगों को आवास मुहैया कराएंगे

    – ये रमन सिंह का संकल्प है। कभी भी आपके सीएम ने रुतबा नहीं दिखाया होगा। रुतबा जमाने वाले को भी राजनीति मे देखा होगा। इनहोंने शासक नहीं बल्कि सेवक माना है। आप सभी का समर्थन आप लोगों को मिलना चाहिए।

    – गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने 22 करोड़ की लागत से सुकमा में बने 32/33 केबी केंद्र का उद्घाटन भी किया।

    – इससे पहले गृहमंत्री ने अपनी बात की शुरुआत में कहा कि दंतेवाड़ा के सभी सम्मानित बहनों और भाइयों को जय जोहार। उन्होंने कहा कि डॉ. रमन सिंह की विकास यात्रा शुरू हो रही है। स्थान-स्थान पर जाकर जनता से सीधा संवाद स्थापित करेंगे। लोगों की कठिनाइयों को जानेंगे। रमन सिंह लगातार 15 वर्षो से सीएम हैं। मैं भी यूपी का सीएम रहा हूं।

    – रमन सिंह के जैसा नहीं देखा, जो पाय की पनही की भी चिंता की हो। ऐसा सीएम पहली बार देखा है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह शनिवार को दंतेवाड़ा से सरकार की विकास यात्रा के शुभारंभ अवसर पर बोल रहे हैं।

    उन्होंने कहा कि बढ़ई, राजमिस्त्री, आदिवासी को स्मार्ट फोन नहीं है तो उसको उपलब्ध कराने वाला ऐसा सीएम हिंदुस्तान में कोई है तो सीएम रमन सिंह हैं।

    – जब राज्य का बंटवारा हुआ तो लोगों ने कहा कि यहां विकास नहीं हो पाएगा। ये राज्य छोटे हैं संसाधन कम हैं। लेकिन आज दूसरे राज्यों से आगे निकल गए हैं। विरोधी दल का कोई सीएम 1 रुपए में चावल उपलबध कराता है। ऐसे सीएम का स्वागत करना चाहिए तो विपक्षी दल विरोध कर रहे हैं।

    अमेठी को विकास में राजनांदगांव के बराबर खड़ा कर दूंगा

    सीएम रमन सिंह ने कहा कि हमारे कांग्रेस के साथियों को विकास नहीं दिखता है। उन्होंने कहा कि विकास का विरोध करने के लिए कांग्रेस के साथी यात्रा पर निकले हैं। आज राजनांद गांव में विकास ढूंढने निकले है। उन्होंने कांग्रेसियों से कहा कि वे अपने राष्ट्रीयअध्यक्ष को यहां लाएं। उन्हें राजनांदगांव का एक चक्कर लगवाएं। उन्हें पता चल जाएगा कि विकास क्या होता है। मुझे 20 साल का समय दें, अमेठी में राजनांदगांव के बराबर विकास करा दूंगा। इनका इलाका पिछड़ा ह़आ है। हमारे यहां विकास खोज रहे हैं। इस विकास को देखने के लिए चलना पड़ेगा। कमरे में एसी में बैठकर सोशल मीडिया पर प्रहार करने से कुछ नहीं होगा।

    – विकास के क्रम में सीएम ने ऐलान किया कि दंतेवाड़ा में 20 करोड़, बचेली में 17 करोड़ की लागत से गौरव पथ बनेगा। इस विकास के साथ 15 हजार से ज्यादा लोगों को विभिन्न योजना के तहत सामग्रियों का वितरण किया जाएगा। सीएम ने सवाल उठाया कि क्या कभी कांग्रेस के शासन काल में बीजापुर, सुकमा जैसे इलाकों में कोई पीएम या सीएम आता था। जब से मोदी जी पीएम बने हैं इन इलाकों में भी पहुंच रहे हैं।

    कांग्रेस को लिए आड़े हाथों

    – कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए सीएम ने कहा कि 50-60 साल तक दुकानदारी करते रहे। गरीब और गरीब हो गया। विकास देखना है तो छत्तीसगढ़ के विकास को देखें। चार महीने में कोई घर अंधेरे में नहीं रहेगा। इस योजना का काम शुरू कर दिया है। कांग्रेस ने 60 साल राज किया। मैं आपसे सवाल करता हूं।क्या गरीबों को कांग्रेस ने 1 रुपए किलो चावल दिया था।

    – कांग्रेस के लोग देख लें, सुन लें समझ लें। जब तक छत्तीसगढ़ में बीजेपी की सरकार है हिंदुस्तान में कोई ताकत नहीं है कि चावल और नमक की योजना बंद करा दे। जब तक मैं सीएम हूं कांग्रेस क्या कोई भी नहीं कर पाएगा।

    – कांग्रेसियों को यहां का विकास नहीं दिखता है। इन्हें अभी 15 साल की सजा मिली है। यहीं हाल रहा तो आने वाले समय में और 15 सालों तक सत्ता से बाहर हो जाएंगे।

    पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को किया याद

    सीएम रमन सिंह ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को याद किया। उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेई के निर्णय से आज छत्तीसगढ़ बना। उन्होंने कहा कि दुनिया के सबसे बड़ी अयोजना की शुरुआत जांगला से हुई। इसका शुभारंभ प्रधानमंत्री ने किया। ये हमारे बीजापुर की प्राथिमिकता है।

    – ये विकास यात्रा नहीं बल्कि तीर्थ यात्रा है। मां दंतेश्वरी का आशीर्वाद लेने के बाद लोगों का आशीवार्द मिलता है। लोग चलते-फिरते देवता हैं। इसलिए ये तीर्थ यात्रा कहना ठीक होगा। दूसरी यात्रा 16 अगस्त से 30 सितंबर तक चलेगी। इस यात्रा में तापमान बढ़ेगा, नवतपा लगेगा। मैं देवतुल्य कार्यकर्ता और जनता को नमस्कार करता हूं। इसतनी गर्मी में भी विकास के लिए खड़े हैं।
    – कांग्रेस के हमारे मित्रों को परेशानी होती है। 30 हजार करोड़ के कामों का भूमि पूजन और लोकापर्ण करने वाले हैं। इस यात्रा में लाखों युवा और महतारी बहनों को किसानों को 55 लाख स्मार्ट फोन का वितरण होगा। 2 महीने के भीतर स्मार्ट फोन मिलेगा। आने वाले जून-जुलाई और अगस्त तक वितरण होगा।

    इससे पहले लगाया दंतेश्वरी मां का जयकारा

    – सीएम रमन सिंह और गृह मंत्री राजनाथ सिंह जगदलपुर एयरपोर्ट से हेलीकॉप्टर के जरिए दंतेवाड़ा पहुंच चुके हैं। यहां दंतेश्वरी मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद राजनाथ सिंह और रमन सिंह आम सभा में मंच पर पहुंचे।

    – मुख्यमंत्री रमन सिंह ने मंच से अपनी बात की शुरुआत करते हुए कहा कि मैं सबसे पहले आपका स्वागत करता हूं। उन्होंने मां दंतेश्वरी का जयकारा लगाया और कहा कि उनके आशीर्वाद से छत्तीसगढ़ की विकास यात्रा पूरी हो रही है।

    – उन्होंने कहा कि मां के आशीर्वाद के साथ ही आप लोगों का आशीर्वाद भी मिला है। आप भी मेरे लिए देवता तुल्य हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री का सपना और कल्पना देश को आगे बढ़ा रही है। छत्तीसगढ़ के निर्माण का समर्थन करने वाले ऐसे मार्ग दर्शक गृहमंत्री राजनाथ सिंह का स्वागत करिए। दिल्ली तक आवाज जानी चाहिए।

    – उन्होंने कहा कि 2003 के पहले आपको ख्याल है, क्या प्रदेश के हालात ऐसे थे। हमारे गृह मंत्री 2003 के बाद विकास यात्रा और परिवर्तन यात्रा शुरू किया था। 2003 में परिवर्तन यात्रा मेंराजनाथ सिंह ने हरी झंडी दिखाई थी। उस समय जनता में भय था।

    हाईटेक रथ पहुंचा है पुणे से तैयार होकर

    – मुख्यमंत्री के लिए हाइटेक विकास रथ (बस) पुणे से तैयार होकर पहुंच चुका है। यात्रा के पहले चरण का समापन 30 दिनों बाद 12 जून को होगा। इसमें जिन विधानसभाओं में पार्टी कमजोर है उनको टारगेट किए जाने की बात है। विकास यात्रा में 62 विधानसभाओं को कवर किया जाएगा। मुख्यमंत्री की इस यात्रा का लक्ष्य मिशन 2018 है। विकास यात्रा के दौरान 50 लाख परिवारों को स्मार्ट फोन बांटे जाने की शुरुआत होगी। इसी के साथ किसानों को बोनस भी दिया जाएगा। पहले चरण की यात्रा के दौरान कुल 29 हजार 500 करोड़ रुपए के निर्माण कार्यों का लोकार्पण, भूमि-पूजन और संचार क्रांति योजना समेत अन्य योजनाओं को लोगों तक पहुंचाया जाएगा।

    छात्रों को 2 जीबी रैम वाले स्मार्ट फोन भी बांटे जाएंगे

    – प्रदेश में माइक्रोमैक्स कंपनी के दो तरह के स्मार्ट फोन बांटे जाएंगे। बांटे जाने वाले 5 लाख माइक्रोमैक्स के भारत-4 होंगे, जो अपग्रेड वर्जन है। शेष 45 लाख फोन भारत-2 मॉडल के होंगे।

    – अपग्रेड वर्जन प्रदेशभर के छात्रों को दिया जाएगा। इसका रैम 2 जीबी होगा। महिलाओं और अन्य को 1 जीबी रैम का भारत-2 फोन दिया जाएगा।

    – छात्रों को दिए जाने वाले स्मार्ट फोन में 1.4 गीगाहर्टज का प्रोसेसर, 16 जीबी स्टोरेज, 5 मेगा पिक्सल का फ्रंट व 8 मेगा पिक्सल का बैक कैमरा तथा 5 इंच की स्क्रीन होगी।

    – शेष हितग्राहियों को 1.2 गीगाहर्टज प्रोसेसर, 8 जीबी स्टोरेज, 2 मेगा पिक्सल का फ्रंट व 5 मेगा पिक्सल का बैक कैमरा तथा 4 इंच की स्क्रीन वाले फोन दिए जाएंगे।

    एंटीइन्कम्बेंसी कम करना मकसद

    – विधानसभा चुनाव के पहले रमन सरकार का यह सबसे बड़ा राजनीतिक दांव है। 50 लाख स्मार्ट फोन बांटने की सरकार की महत्वाकांक्षी योजना भी इस यात्रा के साथ ही शुरू की जा रही है। इसके अलावा धान के बोनस का वितरण भी होगा।

    – यानी इस राज्य के सबसे बड़े वोट बैंक से सरकार सीधे रूबरू होगी। 15 साल की सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनौती एंटीइनकम्बेंसी यानी सरकार विरोधी माहौल से लड़ने की है।

    – सरकार के रणनीतिकारों का मानना है कि लोगों के मन में कोई गुस्सा है और उसे बोलने का अवसर मिल जाए तो उसका गुस्सा शांत हो जाता है।

    मोदी हैं हमारे श्रीकृष्ण
    – डॉक्टर रमन सिंह ने कहा कि चुनावी महाभारत में विकास का ब्रह्मास्त्र चलेगा। प्रधानमंत्री  इस युद्ध में हमारे कृष्ण हैं। वे हमारे मार्गदर्शक हैं।

    16 से बढ़कर 27 हुए जिले, सरगुजा तक विकास

    – मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा, “2003 से 2018 तक छत्तीसगढ़ में व्यापक परिवर्तन हुआ। जिलों की संख्या 27 हो गई है।” कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि विकास के विरोध का मतलब राज्य के ढाई करोड़ लोगों की उम्मीदों का विरोध है।

    – उन्होंने कहा कि राज्य में 65 प्लस सीटों पर जीत का लक्ष्य हासिल करेंगे। रमन सिंह ने कहा कि सरकार नक्सलवाद के खात्मे में लगी है।

    – नक्सल प्रभावित इलाकों में विकास किया गया है। 61 हजार 800 किमी. लंबी सड़क बनी। राज्य में लड़कियों की साक्षरता दर बढ़ी है।

    – किसान सबसे ज्यादा समृद्ध हुए हैं। 60 हजार 700 स्कूल खुल गए हैं।

    केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह दिखाएंगे झंड़ी
    – विकास यात्रा में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह भी पहुंच रहे हैं। वे विकास यात्रा को झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। मां दंतेश्वरी के आशीर्वाद से दंतेवाड़ा से यात्रा शुरू होगी।
    -12 मई को नितिन गडकरी, स्मृति ईरानी, नरेंद्र सिंह तोमर, धर्मेंद्र प्रधान समेत मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज चौहान, उत्तर प्रदेश के सीएम आदित्यनाथ, झारखंड के सीएम रघुबर दास भी विकास यात्रा में शामिल होंगे।
    -पहला चरण 12 मई से शुरू होकर 12 जून तक चलेगा। इस दौरान 38 जगहों पर सभा होगी। 16 रोड शो और 21 रात्रि विश्राम का कार्यक्रम है।
    -शनिवार को रायपुर से हेलीकॉप्टर से सीएम दंतेवाड़ा पहुंचेंगे। यहां दंतेश्वरी मंदिर में पूजा-अर्चना करेंगे। दंतेवाड़ा विधानसभा में आम सभा के बाद वे 48 किमी दूर हेलीकॉप्टर से चित्रकोट विधानसभा जाएंगे। इसके बाद रथ से 22 किमी दूर तोकापाल, जगदलपुर जाएंगे। यहां रोड शो व जनसभाएं प्रस्तावित हैं।
    -यात्रा के दौरान सीएम के सारथी की भूमिका में पीडब्ल्यूडी मंत्री राजेश मूणत होंगे जो सीएम के साथ रहेंगे।
    -इनके अलावा मोर्चों के प्रभारी रामप्रताप सिंह व कार्यालय प्रमुख सुभाष राव सह-प्रभारी बनाए गए हैं।
    -दूसरे चरण में बाकी विधानसभा शामिल होंगे। छत्तीगसढ़ में कुल 90 विधान सभा सीटें हैं। सीएम की योजना विकास यात्रा में सभी सीटों को कवर करने की है।

    यात्रा के लिए दंतेवाड़ा ही क्यों ?

    -पहली बार सीएम बनने के बाद रमन सिंह ने 14 साल पहले यहीं से विकास यात्रा शुरू की थी। पूर्व में भी सीएम लगातार दंतेवाड़ा दर्शन के लिए आए हैं।
    -जानकार बताते हैं कि रमन सिंह दंतेवाड़ा से चुनावी यात्रा शुरू कर राज्य के आदिवासी समुदाय पर कमजोर होती पकड़ को मजबूत करना चाहते हैं।
    -सीएम ने शुक्रवार को पत्थलगड़ी के बारे में पूछे एक सवाल के जवाब में कहा था कि पत्थलगड़ी परंपरा है, उसका विरोध नहीं कर रहे हैं।
    -पहले चरण में फोकस उन विधानसभा क्षेत्रों में है जिन पर भाजपा की पकड़ कमजोर होने की बात कही जा रही है।
    -कहा जा रहा है कि यात्रा में रमन सिंह की जनता का मिजाज भांपने की कोशिश होगी। अगर उनको आवश्यक लगता है तो वे राज्य में आचार संहिता से पहले बड़ी घोषणाएं कर सकते हैं।

    हाइटेक रथ पर सवार होकर सीएम करेंगे विकास यात्रा
    -सीएम का हाइटेक रथ (बस) पुणे से आ गया है। यह बुलेटप्रूफ है। इसमें बैठकर वे चारों दिशाओं की लोकेशन ले सकते हैं। किचन में अपना मनपसंद खाना बनवा सकते हैं।
    -आराम करना चाहें तो लग्जरियस बर्थ भी है। इसे पुणे की चर्चित कार डिजाइनर कंपनी दिलीप छाबड़िया (डीसी) से रेनोवेट करवाया गया है।
    – मुख्यमंत्री इस रथ पर पांच साल पहले भी सफर कर चुके हैं। यह रथ एक तरह से वैनिटी वैन है, जिसमें सीएम के बैठने के लिए आरामदायक चेयर भी है। हाइजीनिक बाथरूम कम टायलेट तथा रिमोल्डेट बर्थ है।
    -रथ में लगी लिफ्ट छत तक ले जाएगी, यही मंच होगा। बड़े-बड़े साउंड बाक्स लगे हैं जिससे हजारों लोग उनकी आवाज सुन सकते हैं।
    -बताया जा रहा है कि बस में लाइट सिस्टम इतना तगड़ा है कि वैन के चारों और दस हजार लोग होंगे, तब भी रथ की लाइटों के दायरे में रहेंगे।

    तगड़ी सुरक्षा व्यवस्था

    -सीएम का हाइटेक रथ पूरे समय कड़ी सुरक्षा में रहेगा। मुख्यमंत्री जहां कहीं रात्रि विश्राम करेंगे, रथ सुरक्षा कमांडों के घेरे में रहेगा। सीएम को जेड प्लस सुरक्षा मिली हुई है, इसलिए कई लेयर में सैकड़ों जवान उनकी रक्षा में तैनात किए जा रहे हैं। राज्य की खुफिया विंग भी अलर्ट पर है।

    पीछे-पीछे चलेगी कांग्रेस की विकास खोजो यात्रा
    – रमन सरकार की विकास यात्रा के विरोध में कांग्रेस 13 मई से विकास खोजो यात्रा शुरू करने जा रही है। यह यात्रा दंतेवाड़ा से शुरू होकर प्रदेश में हर उस जगह तक जाएगी, जहां से विकास यात्रा गुजरेगी।

     

    About jap24news