Wednesday , 19 September 2018
पाठक संख्याhit counter
    BREAKING NEWS
    ब्रजेश सिंह था मुन्ना बजंरगी का सबसे बड़ा दुश्मन, फिर सुनील राठी ने क्यों मारा?

    ब्रजेश सिंह था मुन्ना बजंरगी का सबसे बड़ा दुश्मन, फिर सुनील राठी ने क्यों मारा?

    बागपत : बागपत जेल में मारा गया कुख्यात बदमाश मुन्ना बजरंगी को सबसे बड़ा खतरा डॉन बृजेश सिंह से था. बृजेश सिंह इस समय बनारस जेल में बंद है. मुन्ना बजरंगी मुख्तार अंसारी के लिए काम करता था. बृजेश सिंह को भी दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने उड़ीसा से गिरफ्तार कर और उस पर मकोका लगाया था. बृजेश सिंह का सगा भतीजा सुशील सिंह यूपी में बीजेपी से विधायक है. उसको वाई प्लस सिक्योरिटी मिली हुई है. सुशील सिंह ने कहा था कि मुन्ना बजरंगी और मुख्तार उसकी हत्या करवा सकते हैं. बृजेश सिंह 90 के दशक में दाऊद के लिए काम करता था. जब दाऊद के जीजा हसीना पारकर के पति की हत्या अरुण गवली गैंग ने करवाई तो दाऊद ने आरोपी की हत्या की सुपारी बृजेश सिंह को दी थी. आरोपी मुम्बई के जेजे हॉस्पिटल में भर्ती था. बृजेश सिंह अपने गुर्गो के साथ जेजे हॉस्पिटल में एके-47 लेकर घुसा और आरोपी के साथ साथ जो भी सामने आया उसकी हत्या कर दी.  बृजेश जेजे हॉस्पिटल हत्याकांड से बरी हो चुका है

    अब मुन्ना बजरंगी हत्याकांड के तार पश्चिमी उत्तर प्रदेश के एक और डॉन सुनील राठी से जुड़ रहे हैं. वह भी कई मामलों में जेल में बंद है. अभी तक इस बात का कोई सुराग नहीं मिल पाया है कि मुन्ना बजरंगी को मारने में सुनील राठी का नाम क्यों सामने आ रहा है क्योंकि दोनों का आपस में दूर-दूर तक किसी भी मामले में संबंध नहीं रहा है. वहीं कुछ दिन पहले ही मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने सीएम योगी से मिलकर मुन्ना बजरंगी की हत्या की आशंका जताई थी.

    वहीं सवाल इस बात का भी उठ रहा है कि जेल के अंदर पिस्तौल कैसे पहुंची है. एक दिन पहले ही मुन्ना बजरंगी को बागपत जेल लाया गया था. क्या उसको मारने की साजिश में प्रशासन और बड़े लोगों का भी हाथ है

    About jap24news