Wednesday , 22 August 2018
पाठक संख्याhit counter
    BREAKING NEWS
    मुख्यमंत्री योगी ने अाधुनिक आलमबाग बस टर्मिनल जनता को सौंपा, देखें क्या है खासियत

    मुख्यमंत्री योगी ने अाधुनिक आलमबाग बस टर्मिनल जनता को सौंपा, देखें क्या है खासियत

    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज 235 करोड़ की लागत से बनकर तैयार हुए अत्याधुनिक आलमबाग बस स्टेशन का लोकार्पण किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने लखनऊ से अयोध्या स्वामी नारायण मंदिर छपिया के लिए दो संकल्प सेवाओं को रवाना कर इसका उद्घाटन किया।

    इस दौरान मुख्यमंत्री योगी अादित्यनाथ ने कहा कि हमने दिव्यांगों को पूरे भारत में जहां जहां यूपी परिवहन निगम की बसें चलती हैं सभी में फ्री सीटें उपलब्ध करायी हैं। हमने माताओं बहनों के लिये रक्षाबंधन को फ्री आवागमन की सुविधा दी है।उन्होंने कहा कि परिवहन निगम ने विगत एक साल में बेहतर काम किया है। इसके चलते यह विभाग फायदे में है। इस दौरान सीएम योगी ने कुंभ 2019 के लिए परिवहन निगम की ओर से विशेष सुविधाएं देने का भी एलान किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि आलमबाग बस अड्डे की तर्ज पर प्रदेश में 21 और बस अड्डों का निर्माण किया जाएगा।

    इसके अलावा 40 नए प्रवर्तन वाहनों को भी मुख्यमंत्री ने फ्लैग ऑफ किया। बसों का संचालन 13 जून से होगा।लखनऊ से दिल्ली और आगरा वाया एक्सप्रेस वे संचालित होने वाली 395 एसी सेवाओं का संचालन प्रथम चरण में किया गया है। तीन दिन में सात सौ बसों का संचालन नए बने इस बस स्टेशन से शुरू करने की तैयारी है।

    मिलेंगी इन रूटों की सेवाएं : 
    प्रबध निदेशक ने बताया कि प्रथम फेज में लखनऊ से दिल्ली और आगरा वाया एक्सप्रेस वे संचालित होने वाली 395 सेवाओं की शुरुआत होगी। इनमें से गोरखपुर के लिए तीस, वाराणसी 14 और दिल्ली एवं आगरा के लिए 94 एसी लग्जरी बसों को चलाया जाएगा। वहीं दिल्ली और आगरा के लिए 306 साधारण सेवाएं, वाराणसी के लिए 78, इलाहाबाद 84, झांसी 18, इटावा चार और हरदोई के लिए 12 साधारण बसों का संचालन किया जायेगा।

    सपाइयों ने एक दिन पहले ही कर दिया उद्घाटनः  गौरतलब हो कि अत्याधुनिक तकनीक से लैस इंटरनेशनल बस स्टेशन का उद्घाटन सीएम योगी के द्वारा आज किया गया है। लकिन इससे पूर्व समाजवादी पार्टी के नेताओं ने इसे अपने सरकार की उपलब्धि बताकर एक दिन पहले ही इसका उद्घाटन कर दिया। इस मौके पर सपाइयों ने जश्न मनाया और लोगों को मिठाई भी बाटी। लखनऊ मेट्रो के उद्घाटन के समय भी सपा कार्यकर्ताओं ने मिठाई बाटी थी। आलमबाग बस स्टेशन का नाम कभी डॉक्टर भीमराव अम्बेडकर बस स्टेशन था। 2012 में जब प्रदेश में अखिलेश यादव के नेतृत्व में सपा की सरकार बनी तो इसको तोड़कर नया बस अड्डा बनना शुरू हो गया था।

    यात्रियों को मिलेंगी ये सुविधाएं :

    – मेट्रो से लिंक होगा बस स्टेशन, पाच लिफ्ट।

    – मॉल सरीखे इस बस अड्डे में यात्री जरूरत की खरीदारी भी कर सकेंगे।

    – वातानुकूलित फूड कोर्ट, थिएटर की सुविधा।

    – बैंकों के एटीएम काउंटर, अन्य सेवाओं का लाभ।

    – इंतजार में एसी कैंटीन में बैठे यात्रियों को मिलेगी बसों की छूटने की जानकारी।

    – एयरपोर्ट की तर्ज पर लगेज स्कैनर, 25 हजार यात्रियों की क्षमता, 50 बसें साथ खड़ी हो सकेंगी।

    – 50 से अधिक बसों की अंडरग्राउंड पार्किंग।

    About jap24news