Thursday , 18 October 2018
पाठक संख्याhit counter
    BREAKING NEWS
    सर्जिकल स्ट्राइक डेः आज पूरा देश मना रहा पराक्रम पर्व

    सर्जिकल स्ट्राइक डेः आज पूरा देश मना रहा पराक्रम पर्व

    नई दिल्ली। पूरा देश भारतीय सेना के शौर्य को याद करते हुए पराक्रम दिवस मना रहा है। दो साल पहले आज ही के दिन यानी 29 सितंबर, 2016 को पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया गया था। इसकी दूसरी वर्षगांठ के मौके पर एक दिन पहले इंडिया गेट के पास राजपथ पर भारतीय सेना की ओर से पराक्रम पर्व की शुरुआत की गई। तीन दिवसीय पराक्रम पर्व रविवार तक चलेगा।

    इसमें आम जनता के लिए सेना की गौरव गाथा को बयां करतीं कई प्रदर्शनियां लगाई गई हैं। कई तोपें, मिसाइल लॉन्चर और बंदूकें भी यहां रखी गई हैं। वहीं, शनिवार को इंडिया गेट पर कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल होंगे। इस आयोजन में सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो दिखाने की भी योजना है। इस दौरान इंडिया गेट के मुख्य कार्यक्रम की खास बात संगीतमय प्रस्तुति होगी। इसमें सूफी गायक गायक कैलाश खेर और अन्य गायक सुखविंदर की प्रस्तुति खास है।

    इंडिया गेट पर 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में शहीद लांस नायक अलबर्ट ऐका, सेकेंड लेफ्टिनेट अरुण खेत्रपाल, मेजर होशियार सिंह, फ्लाइंग अफसर निर्मल जीत सिंह सेखों की तस्वीरें लगाई गई हैं। इन सभी को मरणोपरात देश का सर्वोच्च सैन्य अलंकरण परमवीर चक्र से सम्मानित किया गया था।

    वहीं श्रीलंका सिविल वार के दौरान अपनी बहादुरी का परचम लहराने वाले मेजर रामास्वामी परमेश्वरन, कारगिल युद्ध में अभूतपूर्व वीरता का परिचय देने वाले कैप्टन विक्रम बत्रा, लेफ्टिनेट मनोज कुमार पांडेय की तस्वीरें भी लगाई गई हैं। इन तीनों को भी मरणोपरांत परमवीर चक्र से अलंकृत किया गया था। इसके साथ ही 1987 में सियाचिन ग्लेशियर पर 21 हजार फीट की ऊंचाई पर दुश्मन के बंकर को ग्रेनेड से उड़ाने वाले नायब सूबेदार बन्ना सिंह की तस्वीर भी लगाई गई है।

    बन्ना सिंह को भी परमवीर चक्र से अलंकृत किया गया था। कारगिल युद्ध में पाकिस्तान के बंकर को ग्रेनेड से उड़ाने वाले ग्रेनेडियर योगेंद्र सिंह यादव और इसी युद्ध में शानदार वीरता का परिचय देने वाले राइफलमैन संजय कुमार की तस्वीरें भी लगाई गई हैं। इन तीनों को उनकी बहादुरी के लिए परमवीर चक्र से अलंकृत किया गया था।

    हवलदार अशोक कुमार पाठक ने आम जनता को रॉकेट लॉन्चर के बारे में बताया। पराक्रम पर्व के मौके पर बंदूकों पर भी एक प्रदर्शनी लगाई गई, जिसमें सेना की बंदूकों को प्रदर्शित किया गया है।

     

    About jap24news