Wednesday , 17 October 2018
पाठक संख्याhit counter
    BREAKING NEWS
    सुख शांति  के लिए अपनाए हमारे यह उपाय …

    सुख शांति के लिए अपनाए हमारे यह उपाय …

    हमारे हिन्दू धर्मग्रंथो में हर समस्या का निराकरण दिया गया है |पर आज कि दौड़ भाग भरी जिंदगी में हम अक्सर कुछ नियमो का पालन नहीं कर पते उसके कारण हमें कभी कभी दुःख एवं परेशानिया उठानिया पड़ती है तो चलिए आज हम बताते है आपको वास्तु शास्त्र के अनुसार कुछ जरूरी उपाय जिन्हे करने से आपकी सारी परेशानी दूर हो जाएंगी |हम अपने दैनिक जीवन में तमाम तरह की क्रियाएं करते हैं जैसे स्नान करना, पूजा करना और भोजन ग्रहण करना आदि। हमारे शास्त्रों में भोजन करने से संबंधित कुछ नियम बताएं गए है जिसका पालन करने से हम अपने जीवन में सफलता प्राप्त कर सकते हैं। वास्तु में दिशाओं का बड़ा महत्व है।

    हम भवन, दुकान या ऑफिस सजाते वक्त कई बार छोटी-मोटी गलतियां कर बैठते हैं। इस वजह से हमारे घर-परिवार की सुख-शांति छिन जाती है |अगर आपका मुख्य द्वार अशुभ हो तो ऐसा करे यदि दुकान का मुख्य द्वार अशुभ है या दक्षिण-पश्चिम या दक्षिण दिशा में है तो ‘यमकीलक यंत्र’ का पूजन करके स्थापना करें।घर की शांति शयनकक्ष में झाडू न रखें। तेल का कनस्तर, अंगीठी आदि न रखें। व्यर्थ की चिंता बनी रहेगी। जिसके अनुसार भोजन ग्रहण करने से पहले हमें अच्छी तरह से आपने हाथ और नाखुनों को साफ कर लेना चाहिए। हिन्दू धर्म के अनुसार हमारा शरीर भूमि, जल, अग्नि, आकाश, वायु, जैसे तत्वों से मिलकर बना है और हाथों के अंगुलियां इन्हीं का प्रतिनिधित्व करती हैंअगर सरकारी कर्मचारी से परेशान है यदि सरकारी कर्मचारी द्वारा परेशान हैं तो सूर्य यंत्र की विधिवत पूजा करके दुकान में स्थापना करें।धन की हानि से बचने के लिए भोजन हमेशा से एक ही स्थान पर बैठकर करना चाहिए। यदि किसी कारणवश आपको भोजन को त्याग करना पड़े तो दोबारा उस भोजन को नहीं ग्रहण करना चाहिए इससे आयु कम होती है|

    About admin