Saturday , 15 December 2018
पाठक संख्याhit counter
    BREAKING NEWS
    Asia Cup: हांगकांग के ओपनर्स ने भारत के खिलाफ लगाई रिकॉर्ड की झड़ी

    Asia Cup: हांगकांग के ओपनर्स ने भारत के खिलाफ लगाई रिकॉर्ड की झड़ी

    हांगकांग के सलामी बल्लेबाजों निजाकत खान और कप्तान अंशुमन रथ ने मगंलवार को एशिया कप में भारत के खिलाफ रिकॉर्ड की झड़ी लगाई। इस रिकॉर्डतोड़ प्रदर्शन के बावजूद ये अपनी टीम को जीत नहीं दिला पाए, लेकिन इन्होंने दुनियाभर के क्रिकेट प्रेमियों का दिल जीत लिया।

    भारत के 7 विकेट पर 285 रनों के जवाब में हांगकांग 8 विकेट पर 259 रन ही बना पाया। निजाकत (92) और अंशुमन (73) ने पहले विकेट के लिए 174 रनों की साझेदारी की। जब ये दोनों क्रीज थे तब लग रहा था कि हांगकांग बड़ा उलटफेर कर सकता है लेकिन यह साझेदारी टूटने के बाद भारत ने मैच में वापसी कर ली।

    इसके बावजूद निजाकत और अंशुमन के नाम हांगकांग की तरफ से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे बड़ी साझेदारी का रिकॉर्ड दर्ज हो गया। इससे पहले यह रिकॉर्ड भी इसी जोड़ी के नाम था जब इन्होंने स्कॉटलैंड के खिलाफ 2016 में चौथे विकेट के लिए 170 रन जोड़े थे।

    निजाकत के सबसे ज्यादा रन

    निजाकत ने दुबई में इस मैच में 92 रन बनाए। इसी के साथ वे भारत के खिलाफ एसोसिएट देशों की तरफ से सबसे ज्यादा रनों की पारी खेलने वाले बल्लेबाज बन गए। इससे पहले यह रिकॉर्ड केन्या के मॉरिस ओडुम्बे के नाम था जब उन्होंने 1998 में ग्वालियर में 83 रनों की पारी खेली थी।

    पहले विकेट के लिए पहली शतकीय भागीदारी

    यह हांगकांग की तरफ से अंतरराष्ट्रीय वनडे में पहले विकेट के लिए पहली शतकीय भागीदारी है। इससे पहले यह रिकॉर्ड जे. एटकिन्सन और अंशुमन रथ के नाम पर था जिन्होंने 2017 में दुबई में पीएनजी के खिलाफ पहले विकेट के लिए 84 रनों की भागीदारी की थी।

    लक्ष्य का पीछा करते हुए सबसे बड़ा स्कोर

    हांगकांग ने 8 विकेट पर 259 रन बनाए, यह उसका लक्ष्य का पीछा करते हुए सबसे बड़ा स्कोर है। इससे पहले इस मामले में उसका सबसे बड़ा स्कोर स्कॉटलैंड के खिलाफ 213 रन था जो उसने एडिनबरा में 2016 में बनाया था।

    पूर्ण सदस्य देश के खिलाफ सबसे बड़ा स्कोर

    हांगकांग ने 8 विकेट पर 259 रन बनाए, यह उसका किसी आईसीसी के पूर्ण सदस्य देश के खिलाफ सबसे बड़ा स्कोर है। इससे पहले उसने इसी वर्ष अफगानिस्तान के खिलाफ बुलावायो में 8 विकेट पर 241 रन बनाए थे।

    भारत के खिलाफ एसोसिएट देश का दूसरा बड़ा स्कोर

    यह किसी एसोसिएट देश का भारत के खिलाफ दूसरा बड़ा स्कोर है। इस मामले में केन्या 1998 में ग्वालियर में 5 विकेट पर 265 रन बनाकर पहले क्रम पर है।

    हार के मामले में दूसरी बड़ी ओपनिंग साझेदारी

    निजाकत और अंशुमन ने पहले विकेट के लिए 174 रन जोड़े, जो लक्ष्य का पीछा करते हुए हार के मामले में दूसरी बड़ी ओपनिंग साझेदारी है। इस मामले में श्रीलंका के उपुल थरंगा और तिलकरत्ने दिलशान ने राजकोट में 2009 में भारत के खिलाफ पहले विकेट के लिए 188 रनों की भागीदारी की थी।

    About jap24news