Wednesday , 22 August 2018
पाठक संख्याhit counter
    BREAKING NEWS
    cricketer of the year बनने की इन क्रिकेटर्स के बिच लगी दौड़

    cricketer of the year बनने की इन क्रिकेटर्स के बिच लगी दौड़

    इंटरनेशल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) जल्द ही 2017 आईसीसी वन-डे प्लेयर ऑफ द ईयर के नाम का ऐलान करने वाली है। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली इस अवार्ड के प्रमुख दावेदार हैं, लेकिन कोहली के अलावा भी कई ऐसे प्लेयर हैं, जिन्हें आईसीसी प्लेयर ऑफ द ईयर के खिताब से नवाजा जा सकता है।

    क्रिकेट इतिहास में कई ऐसे खिलाड़ी रहे हैं, जो टीम की कप्तानी मिलने के बाद दवाब में खेलते हुए दिखाई दिए हैं। दवाब का असर उनकी बल्लेबाजी या फिर गेंदबाजी पर दिखाई देने लगाता है, लेकिन विराट कोहली के गैर-मौजूदगी में नए कप्तान बनाए गए रोहित शर्मा की बल्लेबाजी श्रीलंका के खिलाफ और भी धारदार दिखाई दी।

    रोहित के नाम इस साल 60 की औसत और 97.11 की स्ट्राइक रेट के साथ 1,416 रन हैं। रोहित ने इस साल 6 सेंचुरी और 6 फिफ्टी लगाई है। इसलिए रोहित अगर इस साल आईसीसी वन-डे प्लेयर ऑफ द ईयर चुने जाते हैं तो कोई हैरानी की बात नहीं होगी।

    अफगानिस्तान का युवा लेग स्पिनर राशिद खान भी इस साल बेस्ट क्रिकेटर चुना जा सकता है। राशिद के नाम इस साल 19 मैचों में 50 विकेट हैं। राशिद का सबसे शानदार प्रदर्शन वेस्टइंडीज के खिलाफ सेंट लूसिया में 7/18 है। इंटनेशनल के अलावा राशिद का जलवा बांग्लादेश प्रीमियर लीग में भी दिखाई दिया।

    पाकिस्तान पहली बार चैंपियंस ट्रॉफी अपने नाम कर पाया तो इसके पीछे सबसे बड़ा फैक्टर था हसन अली नाम का गेंदबाज। पाकिस्तान का यह युवा तेज गेंदबाज न सिर्फ वन-डे आईसीसी प्लेयर ऑफ द ईयर का प्रमुख दावेदार है बल्कि इमरजिंग क्रिकेटर ऑफ द ईयर का मुख्य दावेदार है।

    हसन अली ने आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज रहे थे और पाकिस्तान को जीताने में अहम किरदार निभाया था। अली फिलहाल वन-डे में नंबर वन गेंदबाज हैं। अली के नाम इस साल 21 वन-डे मैचों में 18 की औसत और 4.91 इकॉनोमी के साथ 48 विकेट हैं।

    2015 वर्ल्ड कप के बाद से डेविड वॉर्नर के बाद से वन-डे में कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा है। इस साल उनके नाम सबसे ज्यादा 7 शतक हैं वो भी 108.37 की औसत के साथ। वॉर्नर ने तीन महीने के अंदर दो बार (अक्टूबर 2016 और जनवरी 2017) अपने वन-डे करियर का बेस्ट स्कोर को तोड़ा है। वॉर्नर ने इस साल 22 वन-डे मैचों में 67.80 की औसत और 108.37 के स्ट्राइक रेट से 1,424 रन बनाए हैं।  इसलिए ऑस्ट्रेलिया का यह बाएं हाथ का अटैकिंग बल्लेबाज भी चुना जा सकता है आईसीसी प्लेयर ऑफ द ईयर।

    इन सभी खिलाड़ियों को आईसीसी का यह खिताब पाने से कोई रोक सकता है तो वो नाम विराट कोहली का। इस साल कोहली जब भी मैदान पर बल्ला लेकर उतरे कोई न कोई रिकॉर्ड जरूर अपने नाम किया। कोहली ने 31 मैचों में 82.63 की औसत और 99.45 के स्ट्राइक रेट के साथ 1,818 रन बनाए हैं। कोहली के नाम इस साल 7 सेंचुरी और 9 फिफ्टी हैं।

    About admin