Wednesday , 18 July 2018
पाठक संख्याhit counter
    BREAKING NEWS
    IPL 2018, CSK vs RR: राजस्थान रॉयल्स ने घुटने टेके, 64 रन से करारी हार

    IPL 2018, CSK vs RR: राजस्थान रॉयल्स ने घुटने टेके, 64 रन से करारी हार

    नई दिल्ली: राजस्थान रॉयल्स ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में शुक्रवार को चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ 205 रन के चुनौतीपूर्ण लक्ष्य का पीछा करते हुए राजस्थान रॉजस्थान रॉयल्स को 64 रन से करारी शिकस्त झेलने को मजबूर होना पड़ा है. चेन्नई सुपर किंग्स के मजबूत स्कोर के सामने पावर प्ले (शुरुआती 6 ओवर) में राजस्थान ने तीन विकेट क्या गंवाए, टीम आखिर तक इन सदमों से नहीं ही उबर सकी. बीच में आईपीएल के सबसे महंगे खिलाड़ी बेन स्टोक्स् (45) और जोस बटलर (22) ने राजस्थान को कुछ सहारा देने की कोशिश जरूर की, लेकिन ये भी एक हारी हुई लड़ाई ही लड़ रहे थे

    नतीजा यह रहा कि लगातार नियमित अंतराल पर विकेट गिरते रहे और राजस्थान की टीम 18.3 ओवरों में 140 रन ही ढेर हो गई. और टी-20 के लिहाज से हुए 64 रन के बहुत ही विशाल अंतर से हार झेलनी पड़ी. चेन्नई के लिए दीपक चाहर, शार्दुल ठाकुर, ड्वेन ब्रावो और टूर्नामेंट में अपना पहला मैच खेल रहे लेग स्पिनर कर्ण शर्मा ने दो-दो विकेट लिए. शेन वॉटसन और इमरान ताहिर को एक-एक विकेट मिला. शेन वॉटसन को मैन ऑफ द मैच चुना गया.

    खराब शुरुआत, फिस्स प्लान 
    चेन्नई सुपर किंग्स से मिले 205 के मजबूत टारगेट को हासिल करने के लिए राजस्थान के लिए न केवल ठोस बल्कि तेज शुरुआत एकदम अनिवार्य सी बात थी. लेकिन जब सलामी बल्लेबाज हेनरिच क्लासेन (7) और पिछले मैचों तक बहुत ही शानदार बल्लेबाजी करने वाले संजू सैमसन (2) जब एक बार पवेलियन लौट गए, तो राजस्थान की पूरी प्लानिंग ही बिगड़ गई. इस पर भी अगर कुछ कसर बाकी बची थी, तो दीपक चाहर ने अपना दूसरा विकेट लेते हुए अजिंक्य रहाणे (16) की पांचवें ओवर में गिल्लियां बिखेर कर पूरी कर दी. नतीजा यह रहा कि राजस्थान का प्लान ए (पावर-प्ले, शुरुआती 6 ओवर) को भुनाने का प्लान टांय-टांय फिस्स हो गया. इन ओवरों में राजस्थान 3 विकेट पर केवल 35 ही रन बना सका.

    मध्यक्रम भी दबाव में टूटा
    इसमें दो राय नहीं कि शुरुआत में ही तीन बड़े सदमों ने मिड्ल ऑर्डर की मनोदशा पर बड़ा असर डाला. एक तो विकेट बचाने का दबाव और ऊपर से लगातार बढ़ रही रन गति. जाहिर है कि इसे भेदना आसान काम नहीं था जोस बटलर (22) की भी पॉजेटिव जोन में नहीं दिखे, तो राहुल त्रिपाठी (5) से किसी चमत्कार की उम्मीद करना बेमानी था. लगातार बढ़ते दबाव को बेन स्टोक्स  (45 रन, 37 गेंद) भी ज्यादा देर नहीं झेल सके और 24वें ओवर में इमरान ताहिर ने उन्हें चलता कर दिया.

    CHENNAI SUPERKINGS की पारी
    इससे पहले शेन वॉटसन (106 रन, 57 गेंद ) की बेहतरीन पारी की बदौलत चेन्नई सुपर किंग्स ने राजस्थान रॉयल्स के सामने जीत के लिए 205 रन का टारगेट रखा है. शेन वॉटसन के अलावा दो मैचों के बाद वापसी करने वाले लेफ्टी बल्लेबाज सुरेश रैना (46) ने भी वॉटसन को अच्छा सहारा दिया. और इस प्रयास की बदौलत चेन्नई सुपर किंग्स ने न्योता पाकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में 5 विकेट पर 204 रन का मजबूत स्कोर खड़ा कर लिया. रैना के आउट होने के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (5) और सैम बिलिंग्स (3) के रूप में उसे नियमित अंतराल पर दो झटके लगे, लेकिन एक छोर पर शेन वॉटसन ने बेहतरीन शतक जड़ते हुए चेन्नई सुपर किंग्स को दो सौ के पार पहुंचा दिया.

    पावर-प्ले में शेन ने लगाई वॉट!
    चेन्नई सुपर किंग्स को उसके ओपनरों ऑस्ट्रेलियाई शेन वॉटसन और अंबाती रायुडु ने बहुत ही आतिशी शुरुआत दी. इसमें बड़ा योगदान वॉटसन का रहा, जिन्होंने स्टुअर्ट बिन्नी के पहले ही ओवर में दो चौके लगाकर अपने इरादे साफ कर दिए थे. बहरहाल, पावर-प्ले (शुरुआती 6 ओवर) के बाद चेन्नई सुपर किंग्स का स्कोर 1 विकेट पर 69 रन था. इसमें शेन वॉटसन का योगदान 21 गेंदों पर 38 रन का था.

    वापसी पर बरसे रैना!
    चोटिल होने के कारण पिछले दो मैचों में नहीं खेलने वाले सुरेश रैना ने दिखाया कि वह चेन्नई के लिए कितने महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं. हालांकि शुरुआत में वह थोड़े सतर्क दिखाई पड़े, लेकिन जल्द ही उन्होंने चिर-परिचित लय हासिल कर ली. रैना तोड़ा दुर्भाग्यशाली रहे कि 4 रन से अर्धशतक से चूक गए, लेकिन उन्होंने 29 गेंदों पर 46 रन बनाकर अपनी अहमियत बहुत ही अच्छी तरह साबित की.

    वॉटसन का बेहतरीन शतक
    जहां एक छोर पर विकेट गिरे रहे, या स्कोरगति धीमी रही, तो शेन वॉटसन के बल्ले ने शुरुआत से ही आग उगली, पहले उन्होंने सिर्फ 28 गेंदों पर अर्धशतक जड़ा. वॉटसन ने छक्का जड़कर अपना पचासा पूरा किया. इसके बाद उन्होंने रैना के साथ दूसरे विकेट लिए बहुमूल्य 81 रन जोड़े. रैना के आउट होने के बाद कप्तान धोनी (5) और बिलिंग्स (3) के रूप में चेन्नई को एकदम से दो झटके लगे, लेकिन वॉटसन के अंदाज  पर इसका कोई असर नहीं पड़ा. और उन्होंने जल्द ही 51 गेंदों पर अपना शतक पूरा किया. वॉटसन 19वें ओवर की पांचवीं गेंद पर आउट हुए, लेकिन तब तक वह अपने काम को बखूबी अंदाज में अंजाम दे चुके थे.

    इससे पहले राजस्थान रॉयल्स ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया . चेन्नई टीम में दो बदलाव किए गए. मुरली विजय की जगह सुरेश रैना, तो हरभजन सिंह की जगह लेग स्पिनर कर्ण शर्मा को फाइनल इलेवन में जगह दी गई. वहीं राजस्थान टीम में भी दो बदलाव किए गए. डार्ची शॉर्ट की जगह हेनिरच क्लासेन, तो धवल कुलकर्णी की जगह स्टुअर्ट बिन्नी को इलेवन में शामिल किया गया. दोनों फाइनल इलेवन इस प्रकार हैं

     

    About jap24news